कंगना के खिलाफ ड्रग्स मामले की जांच पर आया EX-ब्वॉयफ्रेंड अध्ययन का बयान, एक्ट्रेस के लिए कह डाली ये बात

19337
ADHYYAN

सुशांत सिंह राजपूत केस में ड्रग एंगल जुड़ने के बाद बॉलीवुड में हंगामा मच गया। एक तरफ एक्ट्रेस कंगना रनौत बॉलीवुड से जुड़े ड्रग्स कनेक्शन पर खुलकर बोल रही हैं तो दूसरी तरफ नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की टीम लगातार बॉलीवुड में ड्रग्स कनेक्शन से जुड़े सेलेब्रिटी की एक लिस्ट तैयार करने में लगी है लेकिन अब इस पूरे विवाद में कंगना रनौत और महाराष्ट्र सरकार आमने-सामने है। महाराष्ट्र सरकार ने कंगना रनौत के खिलाफ ड्रग्स मामले की जांच करने की तैयारी की हैं। इस दौरान सरकार ने कंगना रनौत के एक्स ब्वॉयफ्रेंड अध्ययन सुमन के उस बयान को आधार बनाया है जो उन्होंने साल 2016 में दिया था लेकिन अब इस पूरे मामले पर अध्ययन का बयान सामने आया हैं।

दरअसल अध्ययन सुमन ने हाल ही में नवभारत टाइम्स से बातचीत की। इस दौरान अध्ययन सुमन ने कहा कि मुझे जो भी कंगना के लिए कहना था वो मैं साल 2016 में कह चुका हूं, अब इस मामले पर मैं कुछ भी नहीं कहना चाहता। मैंने अपनी पूरी जिंदगी में काफी कुछ बर्दाश्त किया है लेकिन अब मैं सीख गया हूं। मेरे घर में मेरे पिता एक दिग्गज कलाकार है और मुझे वो कभी बहकने नहीं देंगे। मुझे अब सब समझ आ गया है कि कौन किसके साथ गेम खेल रहा है? अब जो खबरें न्यूज में चल रही है वो दौर मेरी जिंदगी का सबसे पूरा दौर था। वो समय मेरी जिंदगी का डार्क फेस रहा है इसलिए मैं उसे फिर से देखना नहीं चाहता। मुझे इस केस या इस इंसान (कंगना) के साथ मत जोड़ो, क्योंकि इस मामले से मेरा लेना देना नहीं है। इसपर अब मैं कोई टिप्पणी नहीं दूंगा। मैं कुछ नहीं कह सकता, कुछ कहना नहीं चाहता इस मामले में प्लीज मुझे माफ करें।’

बता दें कि सुशांत केस और ड्रग्स मामले पर अध्ययन सुमन के पिता शेखर सुमन काफी एक्टिव है। वह लगातार सुशांत सिंह राजपूत को न्याय दिलाने की मांग कर रहे है। ऐसे में जब मंगलवार को रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी हुई थी। तो उनका रिएक्शन भी सामने आया था। शेखर सुमन ने ट्वीट करते हुए कहा था कि ‘ ये बड़ी जीत है। उसके घर में देर है, अंधेर नहीं। मैं उम्मीद करता हूं कि यहां से अब रास्ता साफ नजर आएगा। आप सब की आवाज और मेहनत रंग लाई। जैसा आप बोते हो, वैसा ही काटते हो।’

ये भी पढ़ें:-कंगना के दफ्तर पर चला बुल्डोजर, तो ;शेरनी; ने BMC को बता दिया बाबर की सेना