जानें क्यों सुशांत मामले की जांच कर रहे CBI ने कहा, ‘ऐसे ही नहीं करेंगे गिरफ्तार’, ये है बड़ी वजह

533

सुशांत मामले की जांच अब सीबीआई को सौंप दिए जाने के बाद इस पूरे मामले की हकीकत सामने आने की उम्मीद जताई जा रही है। उधर, जांच एजेंसी भी इस पूरे मामले को लेकर जांच की रफ्तार तेज करते हुए गत गुरुवार को मुंबई पहुंची। टीम ने सर्वप्रथम इस मामले की गहन तफ्तीश के लिए एसआईटी का गठन किया। जांच एजेंसी का साफ कहना है कि इस मामले को लेकर मुंबई पुलिस से भी पूछताछ की जाएगी। उनकी जांच रिपोर्ट भी ली जाएगी..जैसा कि सुशांत के परिजन लगातार इस मामले में सबूतों को नष्ट करने का आरोप लगा रहे है। उस संदर्भ में सीबीआई की जांच होगी। जांच एजेंसी ने साफ कर दिया है कि इस मामले में किसी भी आरोपित को तभी गिरफ्तार किया जाएगा..जब उसके खिलाफ बकायदा ठोस सबूत मिलेंगे।

ये भी पढ़े :सुशांत केस: क्या जांच में सीबीआई का साथ देगी मुंबई पुलिस? पुलिस कमिश्नर ने दिया बड़ा बयान

इतना ही नहीं, मिली जानकारी के मुताबिक सीबीआई इस मामले को दृश्यात्मक रूप से समझने के लिए क्राइम सीन भी क्रिेएट करेगी, ताक इस मामले की तह तक जाया जा सके। इस सिलसिले में मुंबई पुलिस से भी पूछताछ की जाएगी, जो वहां पहुंचे थे। जिनसे मुंबई पुलिस पूछताछ कर चुकी है। उससे भी सीबीआई पूछताछ करेगी। उधर, सुप्रीम कोर्ट ने सुशांत के पिता केके सिंह द्वारा पटना में दर्ज कराई गई एफआईआर को भी सही ठहराया है। न्यायमूर्ति हृषिकेश रॉय की एकल न्यायाधीश पीठ ने भी कहा था कि बिहार सरकार इस मामले की सीबीआई जांच करने की सिफारिश कर सकती है। याद दिला दें कि महाराष्ट्र सरकार लगातार संवैधानिक नियमों का हवाला देते हुए बिहार सरकार द्वारा सीबीआई जांच की सिफरिश को असंवैधानिक ठहरा रही थी।

वहीं कोर्ट ने मुंबई पुलिस के पास अब तक के मौजूदा सबूतों को सीबीआई को सौंपने को कहा है। इस संदर्भ में जस्टिस रॉय ने कहा था कि महाराष्ट्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के हालिया फैसले को चुनौती देने वाले विकल्प लेने से इनकार कर दिया था। गौरतलब है कि गत 14 जून को सुशांत सिंह राजपूत अपने फ्लैट में मृत पाए गए थे। उनके मृत पाए जाने के बाद से लगातार यह पूरा मामला आत्महत्या और हत्या के बीच गुत्थी बनकर उलझा हुआ  है। अब इसी गुत्थी को सुलझाने के लिए इस पूरे मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी गई है।

ये भी पढ़े :सुशांत सिंह राजपूत का हुआ है मर्डर! सुब्रमण्यम स्वामी ने गिनाईं 26 बड़ी वजहें, देखें लिस्ट