RAKESH SINHA AND DEEPIKA PADUKONE

बीते दिन जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में हुई हिंसा को लेकर देशभर में विरोध-प्रदर्शन जारी है. लोग सड़कों पर उतरकर लगातार सरकार विरोधी नारे लगा रहे हैं तो वहीं बॉलीवुड इंडस्ट्री के स्टार्स भी छात्रों के समर्थन में सड़कों पर उतर आए हैं. इसी लाइन में दीपिका पादुकोण भी लग चुकी हैं, जो उन पर भारी पड़ गया है. सोशल मीडिया पर बायकॉट ‘छपाक’ ट्रेंड कर रहा है. दीपिका की आने वाली फिल्म छपाक 10 जनवरी को रिलीज होने वाली है, लेकिन इससे पहले ही जेएनयू का समरथन कर दीपिका फंस गई हैं, और फिल्म पर बवाल मचा हुआ है.

दरअसल मंगवार के दिन दीपिका को कन्हैया लाल के साथ देखा गया, हालांकि प्रदर्शन के दौरान दीपिका ने कुछ नहीं बोला, लेकिन जिस तरह जेएनयू के छात्रों के साथ खड़ी नजर आईं वो बीजेपी को पसंद नहीं आया, और लगातार इस पर सियासी बयानबाजी जारी है. दीपिका की फिल्म ‘छपाक’ को बायकॉट (Boycott Chhapaak) किए जाने की मुहिम सोशल मीडिया पर शुरू हो चुकी है. जिसमें भाजपा के नेता दीपिका पर जमकर गुस्सा निकाल रहे हैं. हाल ही में बीजेपी के वरिष्ठह नेता राकेश सिन्हाा ने तो ये तक कह दिया कि छपाक फिल्म में आतंकवादी दाउद का पैसा है.

बता दें कि एक चैनल से बात करते हुए राकेश सिन्हा ने कहा कि, ‘दीपिका एक नागरिक क् तौर पर छात्रों के प्रदर्शन में शामिल हुईं, जो सभी ने देखा. अक्सर ऐसे ही तस्वीरें सामने आती है कि जब सरकार के खिलाफ लोग प्रदर्शन करते हैं या फिर राष्ट्रर विरोधी गतिविधि होती है, तो कुछ बॉलीवुड स्टार्स वहां हिस्सा लेने के लिए पहुंच जाते हैं. इसके आगे उन्होंने ये भी कहा कि मुझे ऐसा लगता है कि जैसे बॉलीवुड पर किसी चीज का दबाव है. इसके साथ ही जो आगे सिन्हा ने कहा उससे तो हर किसी के होश उड़ गए, दरअसल उन्होंने अपने बयान में आगे कहा कि, फिल्मोंस में तो दाउद का पैसा लगा हुआ है. यहां तक ब्लैक मनी भी आती है, तो ऐसा हो सकता है.’ इतना ही नहीं आगे सिन्हा ने कहा कि ये बात मैं सिर्फ इसी मामले में नहीं कह रहा हूं.

इसके अलावा दीपिका के इस रवैये पर बीजेपी के सांसद मनोज तिवारी का बयान आया है. मनोज तिवारी ने कहा कि वो कलाकार के तौर पर दीपिका बहुत पसंद करते हैं, वो भी उनके फैंस में से एक हैं. लेकिन जिस तरह से उन्हें जेएनयू के समर्थन में देखा, उससे बहुत आहत हुआ हूं. एक कलाकार के तौर पर उनकी छवि बहुत खराब हुई है. इसके आगे मनोज तिवारी ने ये भी कहा कि दीपिका सैनिकों के साथ खड़ी होती हैं, लेकिन अब वो कन्हैया कुमार के साथ खड़ी हैं, जिससे उनकी छवि देशभर में खराब हुई है.

ये भी पढ़ें:- JNU में जाने के बाद दीपिका का बड़ा बयान, CAA-NRC पर बोलीं- हमारे देश की नींव ऐसी नहीं रखी गई थी