Categories
मनोरंजन

CAA का विरोध करने वालों को अनुपम खेर ने दी नसीहत, बोले- आग लगाकर नहीं शांति से करो प्रदर्शन

देश में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में अब हर कोई कूद पड़ा है। मोदी सरकार ने जैसे ही इस कानून को देश में लागू किया। वैसे ही देश इस कानून के लिए दो पक्षों में बंट गया। जिसमें एक तरफ विरोध प्रदर्शन वाले खड़े है। जो सड़कों पर उतरकर हंगामा कर रहे है। इस विरोध प्रदर्शन में देश के छात्र से लेकर राजनीति पार्टियों के नेता भी उतर गए है। इतना ही नहीं, विरोध प्रदर्शन से बॉलीवुड भी दूर नहीं है। बॉलीवुड के कई सेलेब्स ने नागरिकता संशोधन कानून का विरोध किया है। सोशल मीडिया पर कई स्टार ने कानून के विरोध में कई ट्वीट, कई वीडियो शेयर की है लेकिन अब बॉलीवुड एक्टर अनुपम खेर भी इस विरोध प्रदर्शन में कूद गए है। अनुपम खेर ने भी एक वीडियो शेयर की है।

सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर करते हुए अनुपम खेर ने विरोध प्रदर्शन में हिंसा की बात की है। जो देश में अब चरम पर पहुंच गई है। अनुपम खेर ने कहा कि, ‘नमस्कार, देश में पिछले कुछ दिनों से जो हालात बने हुए है उसे देखकर कुछ अलग ही बेचैनी बनी हुई है। सोशल मीडिया और टेलीविजन से जो भी दृश्य देखने को मिल रहे है। उसे देखकर मन बहुत ही विचलित हो रहा है। हम सब एक समय पर छात्र रहे है और उस दौरान हम सबने ही आंदोलन में हिस्सा लिया है। आंदोलन से ही छात्रों ने अपनी नाराजगी जताई है। इसलिए आंदोलन पर मैं कोई टिप्पणी नहीं करना चाहूंगा। लेकिन ये भी कहूंगा कि स्वतंत्र भारत में उनका ये अधिकार है। लेकिन ऐसे तत्व जो देश के हानि पहुंचाना चाहते है वो छात्रों के आंदोलन का हिस्सा बने और अपने स्वार्थ के लिए देश को नुकसान पहुंचाए। तो ये हमारे लिए, हमारे छात्रों के लिए और हमारे देश के लिए हानिकारक होगा’।

वही इस वीडियो में आगे अनुपम खेर ने पुलिस पर हुई पत्थरबाजी का भी विरोध किया है। एक मिनट 54 सेकंड की इस वीडियो में अनुपम खेर ने शेयर करते हुए लिखा, “भारत के सभी अद्भुत छात्रों से मेरी अपील- प्रोटेस्ट आपका अधिकार है, लेकिन भारत को बचाना आपका कर्तव्य है।” हालांकि अनुपम खेर की ये वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है। लोग इस पर जमकर प्रतिक्रिया भी दे रहे है। ये भी पढ़ें:-CAA प्रदर्शन के बीच सुर्खियों में आया अमिताभ बच्चन का ट्वीट, बोले-दो तरह के भेड़िये हमेशा आपस में;

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *