SSR सुसाइड केस में अब अनुपम खेर ने भी इंसाफ करने की रखी मांग, ऐसे लोगों को कहा कायर

50
Sushant suicide on Anupam

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत ने पूरी इंडस्ट्री को हिलाकर रख दिया है. इस केस में एक के बाद एक नए तथ्य सामने आ रहे हैं. जो वाकई हैरान करने वाले तो हैं ही साथ ही अविश्वास करने वाले भी हैं. जिस पर थोड़ी देर के लिए यकीन कर पाना नामुमकिन है. लेकिन बिहार पुलिस (Bihar Police) की जांच में सुशांत केस (Sushant Case) से जुड़े कई बड़े खुलासे हुए हैं. ऐसे में अब इस केस को सीबीआई (CBI Inquiry) के हाथ सौंप देने की बात कही जा रही है. इसके लिए सुशांत के पिता की सहमति के बाद बिहार सरकार (Bihar Government) ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में केस की सीबीआई जांच के लिए सिफारिश कर दी है. जिस पर आज यानी बुद्धवार को सुनवाई होनी है.

ये भी पढ़ें:- सुशांत सिंह राजपूत केस को लेकर मुंबई पुलिस का बड़ा खुलासा, कहा-बिहार पुलिस को नहीं जांच का हक

इसी बीच कई बड़े स्टार्स लगातार सुशांत के केस में अपना पक्ष रख रहे हैं. इनमें से एक मशहूर एक्टर अनुपम खेर (Anupam Kher) का भी नाम शामिल है. जो काफी दिनों से इस केस को लेकर चुप थे लेकिन अब उन्होंने फिर से एक्टर सुशांत को इंसाफ दिलाने की मांग उठाई है. उनका कहना है कि इस केस के एक आखिरी लॉजिक तक पहुंचना बहुत जरूरी है. दरअसल हाल ही में अनुपम खेर ने अपने ट्विटर एकाउंट से एक वीडियो साझा किया है. जिसमें वो कई बड़ी बातें कह रहे हैं. उन्होंने ये भी कहा है कि इस तरह के केस में आंख बंद कर लेना कायरता की निशानी है.

वायरल हो रहे वीडियो के शुरूआत में अनुपम खेर कहते हैं कि, ”सुशांत सिंह राजपूत के मृत्यु का किस्सा 14 जून से लेकर अब तक जिस नतीजे पर पहुंचा है, इसके इतने उतार-चढ़ाव के बाद तो इस पर न बोलना आंख मूंदने वाली बात है.” उन्होंने कहा कि, ”काफी दिनों तक मैंने इस केस में कुछ नहीं बोला या शायद बहुत से लोग बोलना भी नहीं चाहते हैं क्योंकि उनको ये समझ में ही नहीं आ रहा है कि वो क्या बोलें? लेकिन इस केस की जो स्थिति नजर आ रही है, उसमें बिना किसी को दोष दिए हुए इतना बोलना तो हमारा फर्ज बनता है कि हम उसको एक लॉजिकल एंड तक लेकर जाएं.

आगे अनुपम खेर ने कहा कि, एक एक्टर और को-एक्टर होने के नाते और एक इंसान होने के नाते बोलना चाहिए. क्योंकि वो भी किसी का बेटा है, किसी का भाई है. हम सबने उसके काम की प्रशंसा की है और उसने इंडस्ट्री में बहुत अच्छा काम भी किया है. इसलिए ऐसे वक्त में चुप रहना, जरूरी नहीं है कि हमें किसी को क्रिटिसाइज करना है. उसकी मौत का एक लॉजिकल एंड बेहद जरूरी है. ये कैसे हो सकता है, इसमें कौन कसूरवार है, और कौन नहीं है, ये फैसला तो होना ही चाहिए. न केवल मेरा, न उसके फैंस का, 50 थ्योरी हैं, हम उससे एग्री करें या फिर न करें, लेकिन जो कुछ भी हो रहा है उसका एक अंत तो होना ही चाहिए.” इसके साथ ही वीडियो में अनुपम खेर ने ये भी कहा है कि, “जो लोग भी उसके लिए इंसाफ की गुहार लगा रहे हैं, उसके पिता, भाईयों और बहनों, रिश्तेदारों को तो हमको महसूस कराना चाहिए की हम उनके साथ हैं. आंख मूंदना तो कायता की निशानी है और कायर होना अच्छी बात नहीं है.”

ये भी पढ़ें:- सुशांत सिंह मामले की जांच..महाराष्ट्र सरकार के इस कदम पर भड़के नीतीश कुमार, गुस्से में कही ये बात