कोरोना को मात दे चुके अमिताभ पर इस महिला ने लगाए गंभीर आरोप, भड़के बिग बी ने दिया मुंहतोड़ जवाब

76

महानायक अमिताभ बच्चन (Amitabh bachan) कोरोन वायरस (Corona virus) को मात देकर अब अपने घर रवाना हो चुके हैं। पिछले काफी दिनों से मुंबई के नानावती अस्पताल में उपाचारीधन रहने वाले अमिताभ ने वहां के चिकित्सकर्मियों का शुक्रिया अदा किया तो यह बात सोशल मीडिया पर एक महिला को नागवार गुजरी और उसने बिग-बी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया.. महज मोर्चा ही नहीं खोला बल्कि उन पर कई गंभीर आरोप तक लग दिए। मगर अमिताभ बच्चन ने भी बेहद मुस्तैदी से इन आरोपों का खंडन करते हुए उस महिला को मुंहतोड़ जवाब दिया।

ये भी पढ़े :अमिताभ बच्चन की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव, खुद ट्वीट कर बिग-बी ने बताई सच्चाई

बता दें कि गत दिनों जब अमिताभ बच्चन अस्पताल से डिस्चार्ज हुए थे तो उन्होंने फेसबुक पर एक पोस्ट लिखकर नानवाती अस्पताल के चिकित्सकर्मियों का धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा,  ‘आज सुबह मेरी कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आई है और मैं आज अस्पताल से डिस्चार्ज हो चुका हूं। मैं घर आ चुका हूं और कुछ दिनों तक अपने घर में क्वाराइंटिन रहूंगा। ईश्वर का अनुग्रह और बाबूजी का आशीर्वाद और मित्रों व परिजनों की दुआ और नानावती अस्पताल के चिकित्सकर्मियों के शानदार चिकित्सकिय शैली ने यह संभव बनाया कि मैं आज का दिन देश सकूं। मैं दोनों हाथ  जोड़कर इन सभी के प्रति अपना आभाव व्यक्त करता हूं। मगर महानायक के इस पोस्ट से एक महिला इस कदर भड़क गईं कि उसने अमिताभ बच्चन पर यूं समझिए की आरोपों की झ़ड़ी लगा दी और अंत में यह कहकर अपने वक्तव्यों को विराम दे दिया कि अमिताभ बच्चन अब मैं आपके प्रति अपना सम्मान खो चुकी हूं।

FB 2813 – This morning I have tested CoVid negative and have been discharged fom Hospital. I am back home. I will have…

Posted by Amitabh Bachchan on Sunday, August 2, 2020

बता दें कि महिला ने अमिताभ बच्चन के पोस्ट पर जवाब देते हुए लिखा कि नानावती अस्पताल ने मेरे पिताजी की कोरोना रिपोर्ट गलत दी है। श्रीमान अमिताभ सच में यह बहुत दुखद है कि आप उस अस्पताल का विज्ञापन कर रहे हैं, जो लोगों की जिंदगी की परवाह नहीं करता और केवल पैसा कमाता है। माफ करें, लेकिन अब मैं आपके प्रति अपना सम्मान खो चुकी हूं। उधर, महिला के इन आरोपों का जवाब देते हुए अमिताभ ने अपने ब्लॉग में लिखा कि नहीं मैं इस अस्पताल का विज्ञापन नहीं कर रहा हूं। मैं नानावती अस्पताल में मिले उपचार के लिए उनका दिल से धन्यवाद देना चाहूंगा। मैं ऐसा हर अस्पताल के लिए करता हूं, जो मुझे भर्ती कर मेरा सम्मानपूर्वक उपचार करते हैं। लेकिन मैं अपने देश के चिकित्सा पेशे और डॉक्टरों के लिए सम्मान नहीं खोऊंगा। एक और आखिरी बात मेरा आदर और सम्मान आपके द्वारा जज नहीं किया जाएगा।’

ये भी पढ़े :अमिताभ बच्चन ने फैंस को बताई दो मजहब की शानदार बात, तस्वीर शेयर कर लिखी दिल छू देने वाली बात