aish bachhan

बॉलीवुड में परफेक्ट जोड़ियों में एक एश्वर्या और अभिषेक आज अपनी 13वीं शादी की सालगिराह मना रहे हैं. देश में लॉकडाउन लगा हुआ है और इस बीच बॉलीवुड के सितारे सोशल डिस्टेंसिंग को मेनटेन करते हुए अपनी मैरिज एनिवर्सरी घर में ही सेलीब्रेट कर रहे हैं. मालूम हो कि ऐश और अभिषेक ने साल 2007 के अप्रेल महीने में शादी रचाई थी. आज उनके शादी को करीब 13 साल पूरे हो चुके हैं. ऐसे में कम ही लोग जानते होंगे कि अभिषेक और एश्वर्या की लव कैमिस्ट्री कहां से शुरु हुई जिसके बाद ये बॉलीवुड के स्टार शादी के बंधन में बंधे, तो चलिए आपको बतातें हैं इन ने कैसे अपने प्यार की शुरुआत की थी और फिर शादी भी।

ये भी पढ़ें:-बहू एश्वर्या को ट्रोल करने पर आग-बबूला हुए अमिताभ बच्चन, ट्रोलर्स को इस तरह दिया मुहतोड़ जवाब

दरअसल अभिषेक और ऐश्वर्या का प्यार सेट से ही शुरू हुआ और अभिषेक ने फिल्म के सेट पर ही ऐश्वर्या को प्रपोज भी किया. दिलचस्प बात ये है कि अभिषेक ने ऐश्वर्या को नकली हीरे की अंगूठी देकर प्रपोज किया था. अभिषेक ने एक इंटरव्यू में बताया था कि “मैं न्यूयॉर्क में फिल्म की शूटिंग कर रहा था और सोच रहा था कि कितना अच्छा होगा अगर हम एक दिन शादी कर लें और एक साथ रहें. इसके कुछ सालों बाद हम गुरु के प्रीमियर के लिए वहां पहुंचे. प्रीमियर के बाद मैं ऐश्वर्या को उसी बालकनी में लेकर गया और कहा ‘मुझसे शादी करोगी?’

एक इंटरव्यू में ऐश्वर्या कहती हैं, अभिषेक अपने रिश्तों में सच्चे और असल हैं. जिस तरह उन्होंने मुझे प्रपोज किया वह एकदम अचानक हुआ मीनिंगफुल काम था. उन्होने बताया था कि अभिषेक ने उन्हें गुरु की शूटिंग के दौरान प्रॉप के तरह इस्तेमाल हुई रिंग से प्रपोज किया था. वह असल हीरे की अंगूठी नहीं थी. हम बेशक कीमती हीरे खरीद सकते हैं. लेकिन क्या हमें उनकी जरूरत है?

गौरतलब है कि ऐश-अभिषेक की मुलाकात साल 1997 में आई फिल्म ‘और प्यार हो गया’ के दौरान ही हो गई थी. इस फिल्म में ऐश, अभिषेक के अच्छे दोस्त बॉबी देओल के साथ काम कर रही थीं. बाद में अभिषेक ने ऐश्वर्या के साथ ‘ढाई अक्षर प्रेम के’ (2000) और ‘कुछ ना कहो’ (2003) में काम किया. लेकिन गुरु ही वो फिल्म थी जहां से इन दोनों की बॉन्डिंग स्ट्रांग हुई. कई मीडिया रिपोर्ट्स में ये दावा किया जाता है कि ‘कजरारे’ गाने की शूटिंग के वक्त उनकी बॉन्डिंग मजबूत हुई.

साथ ही 2006 से 2007 के बीच तीन फिल्मों (उमराव जान, गुरु, धूम 2) की शूटिंग के दौरान ही इस कपल को एक-दूसरे के साथ समय बिताने का मौका मिला और दोनों के बीच प्यार पनपा. भले ही गुरु फिल्म को धीरुभाई अंबानी के साथ समानताओं के लिए जाना जाता है लेकिन यही वो फिल्म थी, जिसने इन दो सितारों को पास ला दिया।

ये भी पढ़ें:-शोहरत के नशे में खुद को किया बर्बाद, ममता कुलकर्णी ने अपने हिट करियर पर ऐसे लगाई ब्रेक