1 अक्टूबर से भारत में बदल रहे हैं ये 7 बड़े नियम, फायदे के साथ जेब होगी ढीली

0
4263
Loading...

आज हम साल 2019 के 10वें महीने अर्थात अक्टूबर के महीने में पहुंच चुके हैं। अक्टूबर का महीना दस्तक दे चुका है। वहीं, ये महीना मानो अपने साथ बदलावों की बयार लेकर आया हो। एक नहीं, दो नहीं, तीन नहीं बल्कि 11 बदलाव अपने साथ लेकर आया है ये महीना, और आपको इन बदलावों के बारे में जानना बहुत जरूरी है, क्योंकि इन बदलावों का सरोकार सीधा-सीधा आपसे जुड़ा है, तो चलिए ज्यादा समय न जाया करते हुए सीधा मुद्दे की बात पर आते हैं, यानी की सीधा बदलावों पर आते हैं कि आखिर क्या-क्या बदलाव हुए हैं। ये भी पढ़े :ग्लोबल बिजनेस फोरम में PM मोदी का संबोधन, देश के विकास में खर्च करेंगे 100 लाख करोड़ रुपये

महंगा हुआ गैस सिलिंडर
एक अक्टूबर का महीना आते ही मानो घरेलू गैस सिलिंडर की कीमतों में इजाफा हुआ है। देश के प्रमुख राज्यों में इस इजाफे का सीधा असर पड़ेगा। बता दें कि सिलिंडर की कीमतों में पूरा 15 रूपए का इजाफा हुआ है। दिल्ली में इन सिलिंडरों की कीमत 605 रूपए हो गई है। कोलकाता में 630 रूपए हो गई है। चेन्नई में सिलिंडरों की कीमत 574.50 और 620 रूपए हो गई है। वहीं, दिल्ली में 19 किलाोग्राम वाले सिलिंडरों की कीमत अब 1085 रूपए हो गई है। कोलकाता में 1139 रूपए हो गई है। मुंबई मेें 1032 रूपए इसकी कीमत हो गई है। चेन्नई में 1199 रूपए हो गई है।

केंदीय कर्मियों के पेंशन का नियम अब बदल दिया गया है
सरकार ने केंद्रीय पेशन का नियम अब बदल दिया है। नए बदलाव के मुताबिक, अगर सेवा के लगातार सात साल पूरे नहीं हुए तो भी परिवार के पेंशन का पूरा-पूरा लाभ दिया जाएगा। पहले के नियम के मुताबिक, अगर पूर्व केंद्रीय कर्मियों की मौत सात साल से पहले ही हो जाती है तो उसके परिवार को पेंशन का महज 50 फीसद हिस्सा ही दिया जाता था।

डीएल और आरसी के नियमों में किया गया बदलाव
डीएल और आरसी में भी सरकार ने बड़ा बदलाव किया है। इस नए बदवाल के मुताबिक, डीएल और आरसी के रंग अब एक जैसी ही होगी और पूरी जानकारी एक जगह पर दी होगी, जिससे वाहन चालकों को कोई परेशानी न हो।

होम लोन और ऑटो लोन कर दिया गया अब सस्ता
एक अक्टूबर से अब होम लान और ऑटो लोन सस्ता कर दिया गया है। आरबीआई के रेपो रेट में कटौती का लाभ अब ग्राहकों को मिलता हुआ दिख रहा है। इससे ग्राहकों को अब 0.30 फीसद की कम दर से ग्राहकों को अब होम लोन और ऑटो लोन मिलेगा। ग्राहकों को इसका फायदा एसबीआई बैंक सहित कई अन्य बैंक जैसे नियन बैंक ऑफ इंडिया, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, पंजाब नेशनल बैंक, इंडियन बैंक, निजी क्षेत्र के फेडरल बैंक ने अपनी खुदरा कर्ज को ब्याज को रेपो रेट जोड़ने का एलान किया है।

होटल के कमरे का किराया हुआ सस्ता
1 अक्टूबर से होटल के कमरे का किराया भी सस्ता कर दिया गया है। इस नए बदलवा के मुताबिक, 1000 रूपए वाले किराए की कीमत वाले घर को अब जीएसटी मुक्त कर दिया गया है। 1001 से 7,500 रुपये तक के कमरों पर जीएसटी को 18 से घटाकर 12 फीसदी कर दिया गया है। वहीं, 7,500 रूपए किराए वाले  होटल कमरे में जीएसटी की दर 28 फीसद से घटाकर 18 फीसद कर दी गई है।

न्यूनतम बैंलस को मिली राहत
यहांं हम आपको बता दें कि एक अक्टूबर ने अब न्यूनतम बैंलस में भी राहत देने का बड़ा काम किया है। न्यूनतम बैंलस राशि को 5,000 से घटाकर 3000 रूपए कर दिया है। वहीं, खाते में तय रकम से कम अगर राशि रहती है तो जुर्माने की तौर पर बकायदा 80 रूपए देना होगा।

जीएसटी रिटर्न का नया फॉर्मूला लागू
पांच करोड़ से ज्यादा रिटर्न वाले कारोबारियों के लिए जीएसटी का रिटर्न फॉर्म लागू किया गया है। ऐसे में कारोबारियों को एएनएक्स-1 फॉर्म भरना होगा, जो की जीएसटीआर-1 की जगह लेगा। अब छोटे कारोबारी इस फॉर्म के जरिए जीएसटी रिटर्न भरेंगे।

पेट्रोल-डीजल की खरीद पर अब नहीं लगेगा कैशबैक
अब पेट्रोल-डीजल की खरीब पर 0.75 फीसद का कैशबैक नहीं लगेगा। एचपीसीएल, बीपीसीएल और आईओसी ने कैशबैक स्कीम को वापस लेने को कहा था। केंद्र सरकार ने डिजिटल इंडिया का बढ़ावा देने के लिए 2016 में ही इसमें बढ़ावा देने का काम किया था।

सिंगल यूज प्लास्टिक पर लगेगा प्रतिबंध
वहीं, 2 अक्टूबर से सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लग सकता है। इसके स्वच्छ भारत अभियान से जो़ड़कर देख रही है। ये भी पढ़े :खुशखबरी! रेलवे विभाग की नई सुविधा के तहत, फ्री में होगा रेल यात्रियों का मोबाइल रिचार्ज

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here