रूस और यूक्रेन के युद्ध के चलते जर्मनी में बीयर कंपनियों पर छाया संकट कंपनियों ने जारी किया नया फरमान ,ग्राहकों को बोतल करनी होंगी वापस

युद्ध का असर दुनिया भर के देशों की आर्थिक व्यवस्था पर पड़ रहा है । वही इसे युद्ध के बीच सबसे ज्यादा इन दिनों जर्मनी में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

0
155

रूस और यूक्रेन के युद्ध को लगभग 4 महीने हो चुके हैं लेकिन आज भी यह युद्ध थमने का नाम नहीं ले रहा है ।ना ही रुस अपनी हरकतों से बाज आ रहा है और ना ही यूक्रेन पीछे हटने को तैयार है। इस युद्ध का असर दुनिया भर के देशों की आर्थिक व्यवस्था पर पड़ रहा है । वही इसे युद्ध के बीच सबसे ज्यादा इन दिनों जर्मनी में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है जर्मनी में कांच की कमी आ गई है जिसके चलते रेस्टोरेंट और किराने की दुकानों पर बहुत बड़ा संकट आ गया है।

यूक्रेन करता था कांच की सप्लाई

आपको बता दें जर्मनी में कांच की कमी आने की वजह रूस और यूक्रेन का युद्ध है जर्मनी में कांच की सफाई यूक्रेन करता था और युद्ध के चलते यह सप्लाई बाधित हो गई है। जिसके चलते रेस्टोरेंट और किराने की दुकानों पर काफी प्रभाव पड़ा है वही आपको बता दें कांच की सप्लाई इसलिए बाधित हुई है। आपको बता दें जर्मनी में इस वक्त बीयर की कंपनियों में भी भारी संकट देखने को मिल रहा है इसके पीछे की वजह भी कहां से आए बोतलों की कमी हो गई है ‌।

जर्मनी में बीयर की बोतलों का छाया संकट

जर्मनी में इस वक्त कांच की वजह से बीयर की दुकानों पर भी काफी प्रभाव देखने को मिल रहा है। जर्मनी में बीयर बनाने वाली कंपनियों ने ग्राहकों से खाली बोतल ने वापस करवाने की मांग कर दी है आपको बता दें कि आज की सप्लाई हो नहीं पा रही है जिसकी वजह से नई बोतलें बन नहीं पा रही हैं और बीयर की नई खेप मार्केट में पहुंच नहीं पा रही। शराब विक्रेता पर ही नहीं बल्कि लोगों की जरूरतों पर भी कांच की कमी से संकट मंडरा रहा है।

Read More-अगर आप लोग डायबिटीज के है मरीज करना चाहते हैं शुगर पर कंट्रोल ,इस पौधे की चबाएं पत्तियां