Sunday, January 17, 2021

15 हजार से कम कमाने वालों के खाते में आएगी अब ज्यादा सैलरी, केंद्र सरकार की इस योजना का तुरंत उठाए लाभ

अगर आपका महीना आय (Monthly Incom) 15 हजार से कम है तो अब मोदी सरकार (Modi Government) आपको तोहफा देगी। ये हम नहीं बल्कि कल के बैठक के बाद मोदी सरकार का एलान है। कर्मचारियों को ये तोहफा ‘ आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना (ABRY)’ के तहत दिया जाएगा। इस योजना के तहत 1 अक्टूबर 2020 से 30 जून 2021 तक कर्मचारियों को रिटायरमेंट फंड में अंशदान मिलेगा। सरकार ये फंड कंपनियों को देगी जो कर्मचारियों और नियोक्ताओं के लिए निर्धारित होगा। इसका मतलब है कि तय अवधि के बीच कम सैलरी पर नई नियुक्ति पर सरकार अब कर्मचारी का 12 फीसदी और नियोक्ता का 12 फीसदी भविष्य निधि कोष (EPF) का बोझ खुद उठाएगी।

यह भी पढ़े- कोरोना वायरस के बाद भारत में एक और रहस्यमयी बीमारी, मरीजों के खून में मिली खतरनाक चीज

केंद्र सरकार ने इस योजना को बुधवार को हुए कैबिनेट बैठक में मंजूरी दी है। सरकार के इस योजना से लाखों लोगों को फायदा पहुंचेगा। इस योजना पर सरकार करीब 22 हजार करोड़ खर्च करेगी। इस लाभ का फायदा वही कर्मचारी उठा सकेंगे जिसकी सैलरी महीना 15 हजार से कम है। साथ ही उन कर्मचारियों को जो 1 अक्टूबर 2020 से पहले किसी कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) से संबंध संस्थान में नौकरी नहीं कर रहे थे और कर्मचारियों के पास यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) न हो।

अगर किसी के पास UAN नंबर है और वह 15 हजार से कम सैलरी उठाता है तो उसे भी इसका लाभ मिलेगा। योजना के मुताबिक, अगर 30 जून से 30 सितंबर के बीच corona काल की वजह से किसी की नौकरी चली गई हो तो उसे भी इसका लाभ मिल सकेगा। सरकार के कहेनुसार, 1,000 लोगों तक नए रोजगार देने वाली कंपनियों के दोनों हिस्सों का खर्च वह खुद उठाएगी, जबकि, 1,000 से अधिक लोगों को नए रोजगार देने वाली कंपनियों को हर कर्मचारी के 12 फीसदी का अंशदान का बोझ दो साल तक के लिए उठाएगी।

यह भी पढ़े- किसान आंदोलन से ध्यान हटाने के लिए पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक कर सकता है भारत, अलर्ट पर सेना

Stay Connected

1,097,072FansLike
10,000FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Articles