आपके लिए खुशखबरी…फिर से कम हो सकती है लोन की EMI..SBI ने दिए संकेत

0
109
BANK

आने वाले दिनों में बैंक ग्राहकों के लिए खुशखबरी आ सकती है। कयास लगाए जा रहा है कि   अगर सबकुछ ठीक रहा तो एक बार फिर होम या ऑटो लोन पर ब्‍याज दर में कटौती हो सकती है। दरअसल, स्टेट बैंक की एक शोध रिपोर्ट में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया से कहा गया है कि अर्थव्यवस्था की मौजूदा आर्थिक सुस्ती की स्थिति में सुधार लाने के लिए ब्याज दर में 0.25 फीसदी से अधिक कटौती करने की जरूरत है। रिजर्व बैंक 6 जून को मौद्रिक नीति की अगली समीक्षा जारी करेगा।

मंगलवार को जारी ईकोरैप रिपोर्ट में कहा गया है कि आर्थिक सुस्ती के कारण शेयर बाजार में बेचैनी बढ़ी है। रिपोर्ट में मार्च तिमाही के लिए कंपनियों के नतीजों का विश्लेषण भी किया गया है। इसके मुताबिक 384 कंपनियों में से 330 कंपनियों के रेवेन्यू और प्रॉफिट में गिरावट आई है। टेलीकॉम उपकरण, इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपर, एग्रो केमिकल, पेट्रोकेमिकल और कास्टिंग कंपनियां ज्यादा प्रभावित हुई हैं। निर्यात पर निर्भर करने वाली दवा कंपनियों के नतीजे भी कमजोर रहने के आसार हैं।

हालांकि इसके साथ ही यह भी कहा है कि मॉनसून की स्थिति पर निर्भर करेगा। ICICI बैंक का रिसर्च डिफ्यूजन इंडेक्स पिछले वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में औद्योगिक गतिविधियों में सुस्ती की तरफ संकेत देता है जबकि सेवा क्षेत्र के बारे में इसमें मिला-जुला रुख दिखाई देता है।

एसबीआई रिपोर्ट के मुताबिक शुरुआती रुझान बताते हैं कि 2018-19 की चौथी तिमाही में दूरसंचार उपकरण, ढांचागत सेवाओं, कृषि रसायन, पेट्रोरसायन, ढांचागत सुविधाओं के डेवलपर और कास्टिंग क्षेत्र में कुल मिलाकर गिरावट का रुख रहा है। निर्यात पर निर्भर रहने वाली औषधि कंपनियां भी कमजोर वृद्धि दिखा सकती है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है- हमारा अब भी यही मानना है कि मौजूदा सुस्ती का दौर अस्थाई हो सकता है बशर्ते कि इस बीच उचित नीतियों को अपनाया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here