ऑटो सेक्टर व आम आदमी के लिए बड़ी खुशखबरी, वित्त मंत्री ने किए बड़े ऐलान

0
106
nirmala-sitharaman1
Loading...

देश में आर्थिक मंदी की आहट से लोग काफी परेशान हैं। हर तरफ सिर्फ देश की मंदी की ही चर्चा है। लेकिन, मोदी सरकार अपने इस परेशानी से उबरने के लिए प्लान बनाने में जुटी हुई है। इसके लिए देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने के लिए कई बड़े ऐलान किए हैं। इस योजना से सिर्फ देश की उद्योगपतियों को ही नहीं बल्कि आम आदमी को भी लाभ मिलेगा। साथ ही इस पैकेज से देश की आर्थिक स्थिति में भी काफी तेजी आने की उम्मीद है। तो चलिए जानते हैं वित्त मंत्री के उन 6 बड़े ऐलानों के बारे में

1. बैंकों के लिए सरकार का राहत पैकेज
हाल ही में वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी। जिसमें उन्होंने देश की अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए सार्वजनिक क्षेत्रों के बैंकों में 70,000 करोड़ रुपये की अतिरिक्त पूंजी डालने की घोषणी की। ऐसा करने से बैंक 5 लाख करोड़ रुपये के अतिरिक्त कर्ज मुहैया करा पाएंगे। इस पैकेज से छोटे व्यापारी, खुदरा कर्जदारों समेत कई लोगों को फायदा मिलेगा। साथ ही क्रेडिट की वृद्धि दर को बढ़ावा मिलेगा, जो करीब 12 फीसदी तक होगी।

2. उद्योग पर सरकार का फोकस
वित्त मंत्री ने बताया कि, उद्योग के लिए कार्यशील पूंजी कर्ज भी सस्ता किया जाएगा। सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को कर्ज चुकाने के 15 दिनों के भीतर अनिवार्य रूप से कर्ज से जुड़े दस्तावेज लौटाने का भी आदेश दिया है। इससे उधारकर्ताओं को लाभ होगा, जिनकी संपत्ति बैंक में गिरवी रखी होती है, क्योंकि इससे उन्हें भविष्य में कर्ज जुटाने में मदद मिलेगी।

3. सरचार्ज वापस लेने का ऐलान
मोदी सरकार ने विदेशी पोर्टफोलियो निवेश को बड़ी मात्रा में बाहर जाने से रोकने के लिए इस पर लगाया गया सरचार्ज वापस ले लिया है। इससे FPI के लिए कर 7फीसदी तक घट जाएगा। सरकार के इस फैसले से घरेलू निवेशक भी खुश हैं, क्योंकि यह योजना उन पर भी लागू होगी। बता दें, सरकार द्वारा ये कदम उस वक्त उठाया गया है जब कई हफ्तों से एफपीआई सिर्फ बिकवाली कर रहे थे, क्योंकि केंद्रीय बजट में सरचार्ज लगा दिया गया था। एफपीआई ने बजट घोषणा के बाद से लगभग 8,500 करोड़ रुपये निकाल लिए हैं।

4.हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों को मिलेगी राहत
हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों और रियल एस्टेट क्षेत्र को राहत देते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि नेशनल हाउसिंग बैंक (NHB) एचएफसीज को 20,000 करोड़ रुपये अतिरिक्त प्रदान करेंगे, जिससे कुल तरलता सहायता 30,000 करोड़ रुपये की हो जाएगी।

5. MSME को मिलेगा GST रिफंड
वित्त मंत्री ने ये भी कहा कि, गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों और एचएफसीज को 1 लाख करोड़ रुपये तक की संपत्ति खरीदने के लिए बजट में घोषित आंशिक क्रेडिट गारंटी योजना की निगरानी प्रत्येक बैंक में उच्चतम स्तर पर की जाएगी। इससे एमएसएमई को मात्र 30 दिन में जीएसटी रिफंड मिलेगा। साथ ही उन्होंने होम लोन की दरें कम करने का भी ऐलान किया। उन्होंने कहा कि, बैंक अब रेपो रेट से जुड़े लोन उत्पाद पेश करेंगे।

6. ऑटो सेक्टर के लिए सरकार के बड़े ऐलान
महिला वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने ऑटो सेक्टर को भी बड़ी राहत दी है। उन्होंने कंपनियों, डीलरों और ग्राहकों सभी को बड़ी खुशखबरी दी है। योजना के मुताबिक, मार्च 2020 तक खरीदी गई BS-IV गाड़ियां बंद नहीं होंगी। मार्च 2020 तक सभी गाड़ियों पर 30 प्रतिशत डेप्रिसिएशन होगा। जबकि, जून 2020 तक गाड़ियों की रजिस्ट्रेशन फीस में इजाफा नहीं किया जाएगा। इसके अलावा जल्द ही नई स्क्रैपेज पॉलिसी लाई जाएगी.

पीएम मोदी ने की वित्त मंत्री की तारीफ
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के इन सारे ऐलानों के बाद पीएम मोदी ने उनकी तारीफ की। वो बोले देश में छाई आर्थिक मंदी से लड़ने के लिए जो कदम उठाए जा रहे हैं वो वाकई काफी अच्छे हैं। इससे ईज ऑफ डूइंग बिजनेस को बढ़ावा मिलेगा, मांग बढ़ेगी और कर्ज किफायती होगा। ये भी पढ़ेँः- इस महिला के बयान के कारण, जेल की सलाखों के बेहद करीब पहुंच चुके हैं चिदंबरम

हमारा यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here