भारतीय अर्थव्यवस्था को मिलेगी नई उड़ान, केंद्र सरकार करने जा रही है ये बड़ा ऐलान 

97

महामारी के चलते देश की अर्थव्यवस्था अपनी आखिरी सांसें गिनने में मसरूफ हो कि इससे पहले ही केंद्रीय वित्त मंंत्री निर्मला सीतारमण अपनी हर उस कोशिश को अंजाम तक पहुंचाने की जुगत में जुट चुकी है, जिससे की देश की अर्थव्यवस्था को फिर से जागृत किया जा सके। ध्यान रहे कि इससे पहले भी वित्त मंत्री देश की अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान करने हेतु राहत पैकेज का ऐलान कर चुकी है, जिसके तहत चार बड़ी घोषणाओं का ऐलान किया गया था। उधर, इस बीच अब उन्होंने एक और बड़े राहत पैकेज का ऐलान किया है। इससे पहले वित्त मंत्री ने गत सोमवार को गत चार बड़ी घोषणाएं की थी, जिससे देश की अर्थव्यवस्था में 1 करोड़ से अधिक की मांग पैदा होने का बात कही जा रही है।

अब मिलेगा एक और राहत पैकेज
वित्त मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, बहुत जल्द ही वित्त मंत्री की तरफ से राहत पैकेज का ऐलान किया जा सकता है।  जिससे देश की अर्थव्यवस्था में राहत की बयार बह सके। वित्त मंत्रालय का कहना है कि महामारी की वजह से भले ही विनिवेश की प्रक्रिया धीमी पड़ गई हो, लेकिन यह कम नहीं हुई है। यह सिलसिला अभी तक जारी है। बस, अब जरूरत है तो इसे एक नया बल देने की, जिस दिशा में लगातार प्रयास किए जा रहे हैं।

इसे हफ्ते भी हुए थे 4 बड़े ऐलान
पहली घोषणा: बता दें कि अर्थव्यवस्था में मांग को बढ़ाने के लिए उपभोक्ता के लिए पैकेज का ऐलान किया गया था। उपभोक्ताओं के लिए यह पैकेज 68 हजार करोड़ रूपए का था। इस पैकेज से बाजार में 12 हजार करोड़ रूपए की मांग बढ़ सकती है। एलटीसी कैश वाउचर स्कीम के तहत 12 फीसदी या उससे अधिक वाले टैक्स के सामान की खरीद पर टैक्स में छूट देने का प्रावधान किया गया था जिससे उभोक्ताओं की मांग में इजाफा होने की बात कही जा रही है।

दूसरी घोषणा:  इसके साथ ही केंद्रीय वित्त मंत्री ने फेस्टीव पैकेज का भी ऐलान किया है। केंद्र सरकार के सभी कर्मचारियों को 10,000 रुपए का वन टाइम ब्याज मुक्त लोन मिलेगा। इसका फायदा बड़े पैमाने पर केंद्रीय कर्मचारियों को मिलेगा।

तीसरी घोषणा: राज्य सरकारों को इस पैकेज के तहत 50 साल के लिए 12 हजार करोड़ रूपए का मुफ्त लोन मिलेगा। पूर्वोत्तर के आठों राज्यों के लिए  200 करोड़ रूपए आरक्षित किए गए हैं।

चौथी घोषणा: केंद्र सरकार ने कैपेक्स बजट की घोषणा की है। 4.13 लाख करोड़ रुपए के कैपिटल एक्सपेंडीचर बजट में 25,000 करोड़ रुपए की बढ़ोतरी की है। ये भी पढ़े :पीएम मोदी ने दिखाया बड़ा दिल, बिना वक्त गंवाए दिया 1000 करोड़ का राहत पैकेज