बस्ती में दिखी उरी और पुलवामा हमले की झलक, फिर हुआ दुश्मन पर सर्जिकल स्ट्राइक

0
599
basti

26 जनवरी के मौके पर देशभर में गणतंत्र दिवस को धूम धाम से मनाया गया। देश के हर कौने में इस दिन के लिए खास कार्यक्रम भी रखे गए। ऐसा ही एक कार्यक्रम उत्तर प्रदेश के बस्ती में भी देखने को मिला। यहां पर गणतंत्र दिवस के मौके बस्ती पुलिस लाइन में गणतंत्र दिवस का कार्यक्रम आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में डीएम आशुतोष निरंजन ने झंडारोहण किया। तो वही इस कार्यक्रम में स्कूल के बच्चों ने चार-चांद लगाने का काम किया। यहां पर स्कूल के बच्चों ने देश में घटी बड़ी-बड़ी घटनाओं पर नाट्य रूपांतरण किया। जिसमें उरी अटैक, पुलवामा अटैक और सर्जिकल स्ट्राइक जैसी घटनाएं शामिल थी।

दरअसल बस्ती पुलिस लाइन में इस कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अतिथि जिला अधिकारी आशुतोष निरंजन ने ध्वजारोहण के साथ हुई। इसके बाद कार्यक्रम में पुलिस परेड ने डीएम आशुतोष निरंजन को सलामी दी। इस कार्यक्रम में बच्चो ने भी अपना जज्बा दिखाया। बच्चों ने यहां पर कई तरह की प्रस्तुति दिखाई। जिमसें सबसे ज्यादा यादगार नाट्य प्रस्तुति रही। इस कार्यक्रम में बच्चों ने पुलवामा अटैक और उरी अटैक की झलकियां प्रस्तुत की। इन झलकियों को देखकर वहां मौजूद हर किसी की आंखे नम हो गई। तो वही बाद में सर्जिकल स्ट्राइक की झलकी भी बच्चों द्वारा दिखाई गई। जिसे देखकर सभी लोगों में एक बार फिर देशभक्ति का जज्बा देखने को मिला। इन प्रस्तुती के बाद यहां मौजूद लोगों ने जमकर भारतमाता की जय के नारे लगे।

बस्ती: पुलिस लाइन में दिखी उरी और पुलवामा हमले की झलक, फिर हुआ सर्जिकल स्ट्राइक

बस्ती: पुलिस लाइन में दिखी उरी और पुलवामा हमले की झलक, फिर हुआ सर्जिकल स्ट्राइक

Posted by UP Varta on Sunday, January 26, 2020

हालांकि इस कार्यक्रम में सिर्फ देश की सेना के साथ-साथ इतिहास पर भी एक नजर डाली गई। बच्चों ने महात्मा गांधी ने की कुर्बानी को बड़ी ही सहजता के साथ प्रस्तुत किया। नाटक में बच्चो ने दिखाया कि कैसे महात्मा गांधी ने हमारे देश को बिना किसी हथियार और हिंसा के आजादी दिलाई है। वही कार्यक्रम के आखिर में शहीदों के नमन किया गया। और इसके साथ ही कार्यक्रम का अंत हुआ। ये भी पढ़ें:-बस्ती महोत्सव के मौके पर BJP के वरिष्ठ नेता रमाकांत पाण्डेय ने लोगों से की ये खास अपील

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here