जरूरी खबर: बदलने वाले हैं ड्राइविंग लाइसेंस के नियम, जानें क्या होगा खास

53
international driving license 1

कोरोना काल में भारत सरकार ने जनता की सुविधा के लिए कई कदम उठाए हैं और अब विदेश में फंसे भारतीयों के लिए भी केंद्र सरकार ने राहतभरी खबर सुनाई है. अगर आप भी कोरोना की वजह से विदेश में फंसे हैं और आपको अपने ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License) के रिन्यूवल कराने की चिंता है तो इसके लिए केंद्र ने बड़ा कदम उठाया है और उन सभी भारतीयों को सहूलियत दी है जिनके इंटरनेशनल ड्राइविंग लाइसेंस परमिट (IPD) की वैलिडिटी खत्म हो गई है. मगर वो कोरोना की वजह से भारत नहीं आ पा रहे हैं.

केंद्र का बड़ा कदम
केंद्र सरकार ने विदेश में फंसे भारतीयों के लिए बड़ा कदम उठाते हुए मोटर व्हीकल नियम, 1989 (Motor Vehicle Rules 1989) में संशोधन करने का फैसला किया है. इस संबंध में सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय (MoRTH) ने ड्राफ्ट नोटिफिकेशन जारी कर दिया है.international driving license ड्राफ्ट नोटिफिकेशन के मुताबिक, भारत के ऐसे वाहन चालक नागरिक जिनके इंटरनेशनल ड्राइविंग लाइसेंस परमिट की वैलिडिटी खत्‍मं हो गई है, वे भारतीय दूतावास के पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. यहां से सारे आवेदनों को संबंधित आरटीओ के पास पहुंचाया जाएगा.

वर्तमान नियमों की मानें तो इंटरनेशनल डीएल परमिट के लिए मेडिकल सर्टिफिकेट और वैध वीजा का ब्योरा देना होता है. लेकिन नए संशोधन में व्यवस्था की जा रही है कि जिसके पास वैध ड्राइविंग लाइसेंस हैं उन्हें मेडिकल सर्टिफिकेट देने की जरूरत नहीं होगी.

इस संबंध में सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय ने 6 नवंबर तक सभी हितधारकों से अपनी टिप्पणी और सुझाव मांगे है. जिन्हें मेल या पते पर भेजा जा सकता है. इसके साथ ही मंत्रालय ने देश में भी डीएल और मोटर वाहन के दस्तावेजों की वैधता 31 दिसंबर तक के लिए बढ़ा दी है.

ये भी पढ़ेंः- यूपी वालों के लिए जरूरी खबर, स्कूल और दुर्गा पूजा पर योगी सरकार ने लिया फैसला